Representational Image- India TV Hindi News

Image Source : FILE PHOTO
Representational Image

Karnataka News: 21वीं सदी में भी देश में दलितों पर हो रहे अमानवीय व्यवहार कम होने का नाम नहीं ले रहें हैं। बता दें कि कर्नाटक से एक अजीबोगरीब मामला सामने आया हैं। कर्नाटक के कोलार जिले में हिंदू भगवान की मूर्ति को छूने के आरोप में एक दलित लड़के के परिवार पर 60,000 रुपये का जुर्माना लगाया। पुलिस ने इस मामले में 8 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने शुक्रवार को इसकी जानकारी दी। गिरफ्तार लोगों की पहचान नारायणस्वामी, रमेश आर., चलापति, मोहन राव और चिन्नाय्या के रूप में हुई है। बताया जा रहा है कि जुलूस के दौरान निकाली जाने वाली मूर्ति को छूने पर आरोपियों ने दलित लड़के चेतन की पिटाई की थी।

नए सिरे से फिर से जुलूस निकालेंगे

घटना 8 सितंबर को उल्लेरहल्ली गांव की है। इस घटना के बाद गांव के बुर्जुगों ने लड़के के मां को फोन किया और बताया कि उसके बेटे ने भगवान की मूर्ति को छू लिया है, इसलिए वह नए सिरे से फिर से जुलूस निकालेंगे। लेकिन इसके लिए उन्हें सजा के तौर पर 60,000 रुपये खर्च देना पड़ेगा। साथ ही धमकी दी कि जुर्माना नहीं भरने पर उनका बहिष्कार किया जाएगा।

कांग्रेस विधायक ने की परिवार से मुलाकात

अधिकारियों ने शुरू में इस घटना से मुंह फेर लिया। लेकिन विवाद बढ़ने पर उन्होंने मंदिर का ताला तोड़कर दलित परिवारों को देवता के दर्शन करने की अनुमति दी। मलूर कांग्रेस विधायक के.वाई. नंजे गौड़ा ने दलित लड़के के परिवार से मुलाकात की और सुरक्षा का आश्वासन दिया।

जब तक जुर्माना राशि नहीं दे देते, गांव में प्रवेश न करें

स्थानीय निवासियों ने कहा कि एक मंदिर का निर्माण कार्य किया गया था और इसी पृष्ठभूमि में, ग्रामीणों ने गांव में त्योहार मनाने का फैसला किया था। गांव के लीडरों ने दलित लड़के के परिवार से कहा था कि वे तब तक गांव में प्रवेश न करें, जब तक कि वे जुर्माना राशि का भुगतान नहीं कर देते।

इससे पहले यूपी में दलित की हुई थी जूतों से पिटाई

मुजफ्फरनगर के छपार थाना क्षेत्र में ग्राम प्रधान और पूर्व ग्राम प्रधान द्वारा एक दलित युवक की जूतों से पिटाई का वीडियो सामने आने के बाद पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपी ग्राम प्रधान को गिरफ्तार कर लिया था। पुलिस के अनुसार, ताजपुर के ग्राम प्रधान शक्ति मोहन गुर्जर और रेता नगला ग्राम के पूर्व प्रधान गजे सिंह ने दलित युवक दिनेश कुमार (27) को जूतों से पीटा और उसे जान से मारने की धमकी दी।

पुलिस अधीक्षक (नगर) अर्पित विजयवर्गीय ने बताया कि पुलिस ने ताजपुर के ग्राम प्रधान शक्ति मोहन गुर्जर और ग्राम रेता नगला के पूर्व ग्राम प्रधान गजे सिंह के खिलाफ IPC की संबंधित धाराओं (323, 504, 506) और अनुसूचित जाति, जनजाति निवारण अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया है। उन्‍होंने बताया कि इस संबंध में ग्राम प्रधान शक्ति मोहन को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है और दूसरे आरोपी की तलाश की जा रही है। 

Latest India News

 





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.